Haryana Media
Ad


कोरोना के बाद निमोनिया होने से फेफड़ों में संक्रमण

बुधवार को उन्हें प्लाज्मा दिया गया है, जिसका असर दिखने का इंतजार है

कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया को अपनी चपेट मेंलिया हुआ है। चाहे कोई आम आदमी हो चाहे वीआईपी, अमीर हो, मिडल क्लास होया फिर गरीब तबके से संबंध रखता हो सभी को कोविड 19 ने डर के साए में जीनेको मजबूर कर दिया है।

हरियाणा में कोवैक्सीन का तीसरे दौर का ट्रायल चल रहा था। 20 नवम्बर को विज के ऊपर ट्रायल शुरू हुआ। आपको बता दें कि अनिल विज ने खुद टीके का ट्रायल उनपर सबसे पहले करने की पेशकश की थी। हालांकि ट्रायल के परिणाम अच्छे नहीं निकले और अनिल विज पांच दिसम्बर को कोरोना संक्रमित पाए गए।

हाल ही में उन्हें हालत बिगड़ने पर गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में शिफ्ट किया गया। अब खबर आ रही है कि हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज की हालत अभी स्थिर बनी हुईहै। विज को  ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया है। मंत्री विज गुरुग्राम में सेक्टर-38 स्थित मेदांता मैडिसिटी अस्पताल में भर्ती हैं। बुधवार को उन्हें प्लाज्मा दिया गया है, जिसका असर दिखने का इंतजार है।

मेदांता की डॉक्टर  की अगुवाई में CMO  समेत पांच डॉक्टर उनकी देखरेख कर रहे हैं। मंत्री विज को तकरीबन 4 से 5 दिन ICU में रखा जाएगा। मंगलवार व वीरवार को भी उनके टेस्ट किए गए, जिनकी रिपोर्ट में निमोनिया के कारण फेफड़े में संक्रमण मिला है।

मेदांता के वरिष्ठ चिकित्सकों ने बताया कि मंत्री विज को कोविड निमोनिया हुआ है। इस वजह से उन्हें ICU में रखा गया है। बता दें कि 20 नवंबर को स्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना वैक्सीन की पहली डोज ली थी। उन्होंने खुद ट्वीट करके इसकी जानकारी दी थी कि वे कोरोना संक्रमित हो गए हैं।

कोरोना संक्रमण होने के बाद पहले उन्हें PGI रोहतक ले जाया गया। लेकिन परिजनों ने इलाज से असंतुष्टि जताई तो उन्हें मेदांता ले जाया गया। यहां डॉक्टरों की पूरी टीम उनकी देखरेख में जुटी है। हर पल उनके स्वास्थ्य पर नजर रखी जा रही है। हरियाणा मीडिया भी अनिल विज के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता है।

Ad

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here