चिप्स का बिज़नेस करके कमाएं लाखों
Ad


हैल्लो जनाब कैसे हैं आप? वैसे एक बात तो है। आपका और हमारा रिश्ता फैविकोल की तरह है। एएएएक दमममम सौलिड। हम कितना भी चाहें कि न भई आज तो न डाल पाएंगे वीडियो आज तो आलस बहुत आ रहा है। मगर क्या करें आप जैसे प्यारे प्यारे दर्शकों से जुड़े बिना हमारा खाना ही नहीं पचता। तो आज हम फिर से हाजिर हैं आपके लिए लेकर धासू आइडिया बिजनेस आइडिया का। दोस्तों आज जो हम आपके लिए बिजनेस आइडिया लेकर आए हैं उसे सुनकर आपके मुंह में पानी आ जाएगा। आज हम आपको बताएंगे आलू चिप्स का बिजनेस शुरू करने के फंडू आइडियाज़। तो बने रहिए हमारे साथ। क्यों आ गया न मुंह में पानी। दोस्तों अपने आंख और कान कैमरे के पास ले आइए और ध्यान से सुनिए हमारी बात। 

दोस्तों चिप्स का नाम सुनते ही सभी के चेहरे खिल उठते हैं। सच में यार कितने टेस्टी होते हैं न चिप्स। वाओ। सो यम्मी। अगर आप भी लॉकडाउन में हो गए हैं बोर और कोई नया काम शुरू करने की सोच रहे हैं तो आप कर सकते हैं चिप्स का बिजनेस। दोस्तों चिप्स का प्रयोग नाश्ते के रूप में भारत ही नहीं बल्कि विदेश के भी लगभग हर घर में होता है। हर आयु वर्ग के लोग चिप्स को बड़े चाव से खाते हैं।

यही वजह है कि बाजार में कई प्रकार की कम्पनियां चिप्स का बिजनेस कर रही हैं। इन कम्पनियों में सबसे ज्यादा जो पॉपुलर कम्पनी है वो है लेज़। इसके अलावा हल्दी राम, बिकानो, बिंगो आदि कंपनियां भी चिप्स का बिजनेस कर रही हैं। वैसे तो मार्केट में कई तरह के चिप्स एवेलेबल हैं जैसे केले का चिप्स, चावल के चिप्स, आदि, लेकिन जो सबसे ज्यादा लोगों के द्वारा पसंद किया जाता है वो है आलू का चिप्स। कई बड़ी कम्पनियां चिप्स का बिजनेस करके मोटा पैसा कमा रही हैं। आप अलग अलग फ्लेवर और शेप्स के चिप्स घर पर आसानी से बनाकर मार्केट में लंबे समय तक चलने वाले बिजनेस को शुरू कर सकते हैं।

घर बैठे चिप्स बनाने के लिए रॉ मटेरियल
अब ये तो जाहिर सी बात है कि अगर आप घर पर चिप्स का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो आपके मन में ये सवाल आता होगा कि इसके लिए कितना सारा रॉॅ मैटीरियल लगेगा और क्या क्या मैटीरियल लगेगा। तो हम किस मर्ज की दवा हैं। हम बताएंगे आपको। इस बिजनेस को शुरू करने के लिए इंपॉटेंट रॉ मैटीरियल के रूप में विभिन्न तरह के आलू आपको लेने होंगे। जैसे कि सिम्पल आलू, मीठा आलू आदि। इसके अलावा जो आपको चाहिए वो है चिप्स बनाने के बर्तन और ताजे तेल, नमक और साथ ही मिर्च पाउडर।

कीमत

अब आप सोच रहे होंगे इसके लिए तो बहुत ढेर सारे पैसे चाहिए होंगे। अगर महंगाई डायन ने आपकी जेब पर भी डाका डाला हुआ है तो आपका इस बिजनेस को शुरू करने में हिचकिचाना सही है। मगर आप टेंशन बिलकुल मत लीजिए। बस आप पेंशन लीजिए और टेंशन लेने का काम हम पर छोड़ दीजिए जनाब। इसके लिए आपको ज्यादा कुछ नहीं करना है बस देखते रहिए हमारा वीडियो एंड तक। दोस्तों आलू चिप्स का बिजनेस शुरू करने के लिए बहुत कम लागत लगती है। आम तौर पर बाजार में सााधारण आलू का मूल्य 1200 रुपये प्रति क्विंटल होता है। अगर आप मीठे आलू का चिप्स बनाना चाहते हैं तो इसके लिए अधिक पैसे खर्च करने होंगे। वैसे इस बात की भी हम फुल गारंटी देते हैं कि इससे आपको प्रॉफिट भी ज्यादा होगा। 

मीठे आलू का प्राइस है 4600 रफ़पये प्रति क्विंटल। चिप्स को बनाने के लिए जो तेल आपको चाहिए उसके लिए आपको 120 रफ़पये प्रति किलो खर्च करने होंगे। नमक तो आपको डालना ही पड़ेगा तो इसके लिए आपको खर्च करने होंगे 18 रुपये पर के जी। नमक के अलावा आपको चिप्स में मिर्च पाउडर भी डालना होगा। तो इसका प्राइज़ सुनकर आपको थोड़ी सी मिर्ची भी लग सकती है। आपको 180 रुपये प्रति किलो मिर्च पाउडर के लिए देने होंगे।

घर बैठे चिप्स बनाने का व्यापार यदि छोटे पैमाने का हो
फ्रेंड्स अगर आप इस बिजनेस को बहुत की लो स्केल पर स्टार्ट करना चाहते हैं तो इसके लिए आप बस नॉर्मल आलू का ही प्रयोग कर सकते हैं। इसके लिए आपको कॉस्ट भी कम पड़ेगी। आपको किसी भी होलसेलर की शॉप से 12 रुपये पर के जी नॉर्मल आलू मिल जाएंगे।

घर बैठे चिप्स बनाने के लिए मशीनरी
अब आजकल ठंड का समय है। आलस भी बहुत आता होगा ना आपको कि कौन आलू को पहले धोए, छीलेे, काटने का झंझट मोल ले। अगर आप हाथ से इन सब कामों को करेंगे तो आपका बहुत टाइम वेस्ट होगा। जैसा कि कहा भी गया है कि टाइम इज़ मनी। तो इसलिए इस बिजनेस को फास्ट करने के लिए आप चिप्स बनाने की मशीन का यूज़ कर सकते हैं। इसके लिए आप पोटैटो सस्लैसिंग मशीन का यूज़ करें। अगर आप अपने बिजनेस को हाई स्केल पर शुरू करना चाहते हैं तो आपको बड़ी मशीन चाहिए होगी। हालांकि इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आप छोटी मशीन या हैंड स्लाइसर मश्ीन भी खरीद सकते हैं।

मशीन की कीमत
अब बारी आती है दोस्तों प्राइज़ की। कि इन मशीनों की प्राइज़ क्या होगी? तो आपको बता दें। चिप्स बनाने की सबसे छोटी मशीन आप मार्केट से करीब 35 हजार रफ़पये की इनवेस्टमेंट करनी होगी। अगर आपके बजट में फिट हो तो आप इससे भी अधिक कीमत की मशीन ले सकते हैं।

घर बैठे चिप्स बनाने की प्रक्रिया
अब सवाल आ रहा होगा आपके मन में कि घर बैठे चिप्स को बनाने का प्रोसेस क्या है? तो दोस्तों, इसका प्रोसेस बहुत ही सिंपल है। इसे आप आसानी से समझकर घर से ही चिप्स का बिजनेस शुरू कर सकते हैं। सबसे पहले आपको मार्केट से अपनी च्वाइस के आलू खरीद लें जैसे लाल आलू, मीठे आलू आदि। दूसरा, इसके बाद आप सभी आलुओं को अच्छे से साफ करें। इसके बाद उसके छिलके पिलर की मदद से अलग कर लें। फिर सभी आलुओं को स्लाइस में काट लें। या तो मशीन की मदद से या हैंड स्लाइसर की सहायता से आप इसे कर सकते हैं। इसके बाद कटे हुए स्लाइस को अच्छे से धुलकर सुखाने के लिए धूप में रख दें। इसके बाद आप इन आलुओं को तेल में तल लें और चिप्स को तैयार कर लें। तलते टाइम तेल के टेंपरेचर पर ध्यान देने की जरूरत है। जब चिप्स तल कर तैयार हो जाएं तो उसमें नमक और लाल मिर्च पाउडर मिलाएं। अरे अब वेट किस बात का। फटाफट इन चिप्स को पैक करिए और मार्केट में बेच दीजिए। है न बिलकुल आसान तरीका।

घर बैठे चिप्स बनाने के व्यापार के लिए स्थान
अगर आप इस बिजनेस के लिए मशीन लगाना चाहते हैं तो आपको कम से कम 200 वर्ग मीटर की जगह चाहिए होगी। आप अपने घर में किसी भी प्लेस पर यह मशीन लगा सकते हैं। यह मशीन पूरी तरह ऑटोमेटिक होती है। इस प्लेस का यूज़ आप चिप्स बनाने से लेकर पैकेजिंग तक के लिए कर सकते हैं। इस मशीन को लगाने के लिए आपको 80 हजार से 1 लाख्ा रफ़पये तक की कीमत चुकानी होगी। अगर आप मशीन न लगाना चाहें तो ये कॉस्ट बहुत कम हो जाएगी। लेकिन इसका असर आपके प्रॉफिट पर भी पड़ेगा। क्योंकि उत्पादन कम होगा तो प्रॉफिट भी कम होगा। छोटे स्केल पर बिजनेस के लिए आपको इनवेस्ट करने होंगे 10 हजार रफ़पये।

घर बैठे चिप्स बनाने के व्यापार के लिए पंजीकरण
एक फूड आईटम होने के कारण इस बिजनेस का रजिस्ट्रेशन करवाना आपके लिए जरूरी है। इसके लिए आप अपने बिजनेस को भारत सरकार के एमएसएमई के अंतर्गत रजिस्टर्ड करवा सकते हैं। इसके अलावा आपको ट्रेड करने का लाइसेंस भी लेना होगा। इसके बाद आपको आपके व्यापारिक संस्था के नाम से बैंक अकाउंट और पैन कार्ड बनवाने की आवश्यकता होती है। आपको चिप्स का परीक्षण सरकार के खद्य विभाग में करा कर एफएसएसएआई का लाइसेंस भी लेना होता है।

घर बैठे चिप्स बनाने के व्यापार में लाभ
अगर आप ये बिजनेस घर पर ही करते हैं तो आपको एक अच्छा खासा प्रॉफिट होगा। वैसे फ्रेंड्स आपको प्रॉफिट तभी मिल सकता है जब आपके चिप्स की क्वालिटी टॉॅप की हो। ऐसी ढेर सारी कम्पनियां मार्किट में हैं जो अक्सर 10 रफ़पये के पैकेट में भी बहुत कम मात्र में चिप्स देते हैं। मगर फिर भी उनकी सही क्वालिटी के कारण ही उनका बिजनेस इतना अच्छा चलता है। अगर आप मशीन से चिप्स बनाएंगे तो आपको मन्थली 30 से 40 हजार रफ़पये प्रॉफिट होगा। अगर आप स्मॉल स्केल पर बिजनेस शुरू करें तो भी आपका मंथ्ली प्रॉफिट 4 से 5 हजार होगा।

घर बैठे चिप्स बनाने के व्यापार की मार्केटिंग
अब बारी आती है कि इसकी मार्किटिंग कैसे की जाए। ये है भी इंपॉटेंट पार्ट किसी भी बिजनेस का। आपने वो कहावत तो सुनी ही होगी। जो दिखता है वही बिकता है। तो हमें अपने प्रोटक्ट को इसलिए एड्वर्टाइज़ करना पड़ता है ताकि लोगों को हमारे प्रोडक्ट के बारे में पता चले और वो हमसे प्रोडक्ट खरीदने आएं। तो इसके लिए मार्किर्टिग ही एक अच्छा तरीका है। आप अपने द्वारा बनाए गए चिप्स का डिमान्स्ट्रेशन शहर की विभिन्न दुकानों में कर सकते हैं। इसके अलावा आप बड़ी कंपनियों से ऑर्डर लेकर उनके लिए भी चिप्स बना सकते हैं और प्रॉफिट कमा सकते हैं। शहर में कई स्नेक्स की दुकानें भी होती हैं तो यहां भी आप अपने प्रोडक्ट्स दे सकते हैं। यहां आपके चिप्स आसानी से बिक जाएंगे।

चिप्स की पैकेजिंग  चिप्स एक चटपटा पदार्थ है। इसलिए आपको इसके पैकेजिंग पर विशेष ध्यान देना होगा। आप अपने प्रोडक्ट का एक अच्छा सा नाम रखकर उसका लोगो बनवा कर चिप्स के पैकेट पर यूज़ कर सकते हैं। इससे आपका चिप्स की ब्रैंडिंग भी हो जाती है और उसका प्रमोशन होने के कारण वो आसानी से बिक भी जाता है।

Ad

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here